15 अगस्त पर निबंध हिंदी में :Independence Day Essay in Hindi 2019

0

ब्रिटिशो ने हमारे भारत पर कई साल तक शासन किया और हमारे देश के कई राज्यों में अपना परचम रहराया उन्होंने सोने की चिड़िया कहा जाने वाले हमारे देश को  ऐसी स्थिति पर लाकर खड़ा कर दिया कि अब यहां की अर्थव्यवस्था को ठीक-ठीक बनाए रखने के लिए भी कर्ज लेने की नौबत आ जाती थी पैसा टूट चूका था और भारत की ऐसी नोबत आ गई थी की उसे कर्ज का सहारा लेना पढ़ रहा था

भारत की ऐसी स्थिति को देखते हुये हमारे देख के कुछ लोगो ने इसका बिरोध किया तो कुछ लोगो ने हार मान ली लेकिन इन्ही में से कुछ ऐसे भी महानायक थे जो हमारे भारत को आजाद करने का ठान लिए थे जिनमे से है मंगल पांडे , रानी लक्ष्मीबाई महात्मा गांधी रामप्रसाद बिस्मिल , अशफाक उल्ला खां , भगत सिंह , चंद्रशेखर आजाद , नेताजी सुभाषचंद्र बोस जवाहर लाल नेहरूसरदार वल्लभभाई पटेल 

इन महानयको ने कई सालो तक लड़ा और लड़ते लड़ते कई महानायक ने अपने देश के लिए कुर्बानी भी दे दी लेकिन इन महानायकों की क़ुरबानी असफल नही गई  15 अगस्त 1947 को हमारा देश ब्रिटिश के राज़ से आजाद हो गया इस दिन को भला कौन भूल सकता था हमारा भारत  ब्रिटिश के चंगुल से छुट जो चूका था तो इसी की ख़ुशी में पुरे भारत में इसका जशन बड़े धूम धाम से बनाया गया और तब से आज तक इस दिन को कोई नही भूलता
और हार साल 15 अगस्त को लोग इसका जशन मानते है और उन महानायकों को श्रद्धांजलि देते है जिन महानायकों ने इस देश को आज़ाद करने में अपनी कुर्बानी दे दी

भारत में 15 अगस्त बहुत उत्साह और गौरव के साथ मनाया जाता है। 15 अगस्त 1947 को भारत को अंग्रेजों की गुलामी से आजादी मिली थी। तब से हमारे देश में हर वर्ष 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है। इस दिन भारत के प्रधानमंत्री लाल किला पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं। इस दिन सभी सरकारी कार्यालय जैसे बैंक, पोस्ट ऑफिस आदि में अवकाश होता है। इसके साथ ही सभी स्कूल और ऑफिस में तिरंगा फहराया जाता है। इसके साथ ही कई स्कूल और कॉलेज में निबंध, कविता,भाषण, नाटक आदि कई प्रतियोगिता भी आयोजित की जाती है। 15 अगस्त पर निबंध लिखने की प्रतियोगिता में शामिल होने वाले छात्र यहां से हिंदी में निबंध पढ़ सकते हैं

-:Independence Day Essay in Hindi 2019:-

Independence day speech in hindi

 

निबंध (1) 

15 अगस्त 1947 भारत के लिए बहुत भाग्यशाली दिन था। इस दिन अंग्रजों की लगभग 200 वर्ष गुलामी के बाद हमरे देश की आज़ादी प्राप्त हुई थी। भारत को आज़ादी दिलाने के लिए कई स्वतंत्रता सेनानियों को अपनी जान गवानी पड़ी थी। स्वतंत्रता सेनानियों के कठिन संघर्ष के बाद भारत अंग्रजों की हुकूमत से आज़ाद हुआ था। तब से ले कर आज तक 15 अगस्त को हम स्वतंत्रता दिवस मानते हैं।

स्वरंत्रता दिवस को भारत में राष्ट्रीय अवकाश होता है। इसके एक दिन पहले भारत के राष्ट्रपति देश के समक्ष संबोधित करते हैं। जिसे रेडियो के साथ कई टीवी चैनेल्स में भी दिखया जाता है। स्वतंत्रता दिवस को हर वर्ष देश के प्रधानमंत्री लाल किला पर तिरंगा फहराते हैं। तिरंगा फहराने के बाद राष्ट्र गान गया जाता है और 21 बार गोलियां चला कर सलामी भी दी जाती है। इसके साथ ही भारतीय सशस्त्र बल, अर्धसैनिक बल और एनएनसीसी कैडेड परेड करते हैं। इस दिन लाल किला से टीवी के डी डी नेशनल चैनल और आल इंडिया रेडियो में सीधा प्रसारण किया जाता है। आतंकवाद के खतरे को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा के कड़े इन्तेजाम भी किये जाते हैं।

केवल देश की राजधानी के साथ देश के अन्य सभी राज्यों में भी मुख्यमंत्री सम्मान के साथ तिरंगा फहराते हैं। 15 अगस्त को हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों को श्रधांजलि दी जाती और उनका सम्मान किया जाता है। इस दिन देशभक्ति के गीत और नारे लगाये जाते हैं। वहीं कुछ लोग पतंग उड़ा कर आजादी का पर्व मनाते है।

निबंध (2) 

हर साल 15 अगस्त के दिन को भारतवासी स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं। 15 अगस्त 1947 के दिन ही भारत को आजादी मिली थी जिसका लोगों को वर्षों से इंतजार था।

इस दिन भारत के सबसे पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया था। उस दिन लोग गुलामी की जंजीरें तोड़कर बहुत ज्यादा प्रसन्न थे। तब से भारत बहुत उन्नति कर चुका है।

आज भी सभी भारतीय अपना स्वतंत्रता दिवस बहुत ही हर्षों-उल्लास के साथ मनाते हैं। 15 अगस्त के दिन प्रधानमंत्री लाल किले पर तिरंगा फहराकर राष्ट्र को संबोधित करते हैं।

भाषण के माध्यम से वे राष्ट्र को मिलजुल कर रहने और अपनी आजादी को बरकरार रखने की प्रेरणा देते हैं। स्वतंत्रता दिवस के दिन देश के विभिन्न हिस्सों में कई प्रकार के समारोह आयोजित होते हैं।

इस दिन स्कूलों, कॉलेज और भवनों के उच्च पर झंडा फहराते है जो गर्व महसूस कराते हैं। लोग एक दूसरे को स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हैं।

स्वतंत्रता दिवस हमें अपने महान स्वतंत्रता सेनानियों और शहीदों की याद दिलाता है। इस दिन हम उन्हें सम्मान और श्रद्धांजलि देते हैं।

सभी भारतवासी इस दिन उनके बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लेते हैं और अपने बच्चों को उनके बताए मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करते हैं।

15 अगस्त का दिन यानी स्वतंत्रता दिवस हम भारतीयों को आपसी मतभेद भुलाकर देश के नवनिर्माण की प्रेरणा देता हैं।

आओ, हम सब मिलकर अपने देश के नवनिर्माण में हाथ बटाएं।

ये भी पढ़े 

 

Tags:

हैप्पी स्वतंत्रता दिवस २०१९, 15 अगस्त पर निबंध, स्वतंत्रता दिवस 2019 पर निबंध, इंडिपेंडेंस डे हिंदी निबंध, छात्रों और शिक्षकों के लिए स्वतंत्रता दिवस (15 august) पर आसान निबंध/भाषण, स्वतंत्रता दिवस का महत्व, 15 अगस्त का इतिहास, स्टूडेंट्स के लिए 15 अगस्त निबंध हिंदी में, बच्चों के लिए १५ अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर लघु निबंध।

Happy Indian 73rd independence day 2019 essay in hindi, 15 august essay in hindi, Independence day essay in hindi language for students and teachers, Short and simple essay on 15 august independence day in hindi for kids, Essay on 15 august hindi mein, Swatantrata diwas par nibandh, Essay on independence day in hindi language, Swatantrata diwas essay in hindi, 15 August hindi nibandh. Hindi Essay on Independence Day in Hindi 2019

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here