15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर भाषण: independence day speech in hindi

0
Independence day speech in hindi

ब्रिटिशो ने हमारे भारत पर कई साल तक शासन किया और हमारे देश के कई राज्यों में अपना परचम रहराया उन्होंने सोने की चिड़िया कहा जाने वाले हमारे देश को  ऐसी स्थिति पर लाकर खड़ा कर दिया कि अब यहां की अर्थव्यवस्था को ठीक-ठीक बनाए रखने के लिए भी कर्ज लेने की नौबत आ जाती थी पैसा टूट चूका था और भारत की ऐसी नोबत आ गई थी की उसे कर्ज का सहारा लेना पढ़ रहा था

भारत की ऐसी स्थिति को देखते हुये हमारे देख के कुछ लोगो ने इसका बिरोध किया तो कुछ लोगो ने हार मान ली लेकिन इन्ही में से कुछ ऐसे भी महानायक थे जो हमारे भारत को आजाद करने का ठान लिए थे जिनमे से है मंगल पांडे , रानी लक्ष्मीबाई , महात्मा गांधी , रामप्रसाद बिस्मिल , अशफाक उल्ला खां , भगत सिंह , चंद्रशेखर आजाद , नेताजी सुभाषचंद्र बोस , जवाहर लाल नेहरूसरदार वल्लभभाई पटेल 

इन महानयको ने कई सालो तक लड़ा और लड़ते लड़ते कई महानायक ने अपने देश के लिए कुर्बानी भी दे दी लेकिन इन महानायकों की क़ुरबानी असफल नही गई  15 अगस्त 1947 को हमारा देश ब्रिटिश के राज़ से आजाद हो गया इस दिन को भला कौन भूल सकता था हमारा भारत  ब्रिटिश के चंगुल से छुट जो चूका था तो इसी की ख़ुशी में पुरे भारत में इसका जशन बड़े धूम धाम से बनाया गया और तब से आज तक इस दिन को कोई नही भूलता
और हार साल 15 अगस्त को लोग इसका जशन मानते है और उन महानायकों को श्रद्धांजलि देते है जिन महानायकों ने इस देश को आज़ाद करने में अपनी कुर्बानी दे दी

आज हम यहाँ स्वतंत्रता दिवस – Independence Day पर स्कूल जाने वाले बच्चो और विद्यार्थियों के लिये कुछ आसान भाषण – Speech बताने जा रहे है। स्वतंत्रता दिवस 15 August के समय में आप इन भाषणों Speech का उपयोग कर सकते हो। निचे दिये भाषण आसान है जिसे विद्यार्थी आसानी से बोल सकते है।

नमस्कार दोस्तों, www.wikimasti.com की तरफ से आप सभी को और आपके परिवार जनों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनायें| आज हम आपके लिए 15 अगस्त पर भाषण का बेस्ट कलेक्शन लेकर आये है.

independence day images 2019 for whatsapp status

 

15 अगस्त पर स्कूल के छात्रों और शिक्षकों के लिए भाषण

 

भाषण (1)

आदरणीय मुख्य अतिथि महोदय, सम्माननीय शिक्षक, अभिभावक एवं साथियों। स्वतंत्रता दिवस के इस पावन अवसर पर अपने विचार व्यक्त करने का सुअवसर प्राप्त कर मुझे हर्ष की अनुभूति हो रही है। यह हमारा 73 वां स्वतंत्रता दिवस समारोह है। आज से ठीक 73 वर्ष पूर्व, हमे आजादी मिली थी। हमारे आजादी के संघर्ष की गाथा बहुत बड़ी है जिसका वर्णन एक दिन में नहीं हो सकता है। हर भारतीय के लिए स्वतंत्रता दिवस बहुत महत्व रखता है।

आज से 73 वर्ष पूर्व हम पर अंग्रेजों का शासन था, वे व्यापार के बहाने भारत आए और धीरे-धीरे सब कुछ अपने अधीन कर लिया और हमें अपना गुलाम बना लिया। फिर कई आंदोलन और लड़ाई लड़ने के बाद 15 अगस्त 1947 को भारत स्वतंत्र हुआ। हमारे देश के वीर योद्धाओं की वजह से आज हम स्वतंत्र हुए हैं और उन लोगों को श्रद्धांजलि देते हुए इस दिन को मनाते हैं। स्वतंत्रता दिवस भारत के राष्ट्रीय पर्वों मे से एक है।

जय हिन्द।

भाषण (2)

“मुख्य अतिथि, प्रिंसिपल, शिक्षकों और मेरे प्यारे दोस्तों के लिए सुप्रभात। मैं आप सभी को एक बहुत ही स्वतंत्र स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं देता हूं! आज, मुझे स्वतंत्रता दिवस पर कुछ बोलने का मौका मिला है इसमें मैं अपने आपको सम्मानित महसूस कर ता हूं। 15 अगस्त हमेशा हमारे लिए इतना खास रहा है कि एक दिन जब हम अपने देश की सारी महिमा याद करते हैं क्योंकि हम संघर्ष, विद्रोह और भारतीय स्वतंत्रता से लड़ने वाले भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों के प्रयासों को याद करते हैं। भारत का स्वतंत्रता दिवस न केवल ब्रिटिश राज के शासन से भारत की आजादी को दर्शाता है, बल्कि यह इस देश की शक्ति को भी दिखाता है। और ये दिखाता है कि जब वह इस देश के सभी लोगों को एकजुट करता है

जय हिन्द।

भाषण (3)

मेरे सभी आदरणीय अध्यापको, अभिभावकों और प्रिय मित्रों को मेरा नमस्कार।

आज हम यहाँ महान राष्ट्रीय आयोजन स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए इकठ्ठा हुए हैं। जैसा की हम सभी जानते है कि, 15 august के दिन हमारे देश में स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता हैं। यह दिन हम सभी भारतीयों के लिए एक शुभ अवसर हैं।

भारत का स्वतंत्रता दिवस सभी भारतियों के लिए सबसे महत्त्वपूर्ण और साथ ही खुशी का दिन हैं और इतिहास में हमेशा रहेगा। यह वह दिन है जब हमें भारत के महान स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा कई वर्षों तक कड़े संघर्ष के बाद ब्रिटिश शासन से आजादी मिली।

हम भारत की आजादी का पहला दिन (15 august 1947) को याद रखने के लिए हर साल इस दिन को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं। इस दिन हम उन महान स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदानों को याद करते हैं जिन्होंने भारत के स्वतंत्रता संग्राम में अपनी जान कुर्बान कर दी।

सन 1947 में ब्रिटिश शासन से 15 अगस्त के दिन भारत को आजादी मिली। आजादी के बाद हमें अपने स्वयं के राष्ट्र, हमारी मातृभूमि में हमारे सभी मौलिक अधिकार प्राप्त हुए।

हम सभी को भारतीय होने पर गर्व होना चाहिए और अपने भाग्य की प्रशंसा करनी चाहिए की हमने एक आजाद भारत के आँचल में जन्म लिया। भारत के इतिहास से पता चलता है कि, हमारे पूर्वजों ने कितनी कड़ी मेहनत की थी और कैसे अंग्रेजों के क्रूर व्यवहार का सामना किया था।

हम अंदाजा भी नहीं लगा सकते कि, ब्रिटिश शासन से भारत के लिए आजादी कितनी मुश्किल थी। यह आजादी कई स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान और 1857 से 1947 तक कई दशक संघर्ष करने के बाद मिली।

भारत की आजादी के लिए सबसे पहले अंग्रेजों के खिलाफ मंगल पांडे ने आवाज उठाई थी।

उसके बाद कई स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत की आजादी के लिए आखरी साँस तक संघर्ष किया। हम भगत सिंह, खुदी राम बोस और चंद्रशेखर आजाद के बलिदानों को कभी नहीं भुला सकते। जिन्होंने अपने देश को आजादी दिलाने के लिए जवानी में ही अपनी जान गँवा दी।

हम सुभाष चन्द्र बोस (नेताजी) और महात्मा गाँधी जी के संघर्षों को कैसे नजरअंदाज कर सकते हैं। गांधीजी एक महान भारतीय व्यक्ति थे जिन्होंने भारतीयों को अहिंसा का एक बड़ा सबक सिखाया।

गांधीजी अकेले थे जिसने अहिंसा की मदद से स्वतंत्रता पाने के लिए भारत का नेतृत्व किया। आखिरकार, लंबे वर्षों के संघर्ष का परिणाम 15 august 1947 को सामने आया जब भारत को आजादी मिली।

हम इतने भाग्यशाली है की हमारे पूर्वजों ने हमें शांति और खुशहाली की भूमि दी हैं जहाँ हम बिना डर के रह सकते है और पुरे दिन हमारे देश में आजाद पक्षी की तरह आनंद ले सकते हैं।

हमारा देश प्रौद्योगिकी, शिक्षा, खेल, वित्त और अलग-अलग अन्य क्षेत्रों के क्षेत्र में बहुत तेजी से विकास कर रहा है जो स्वतंत्रता से पहले लगभग असंभव था। भारत परमाणु ऊर्जा में समृद्ध देशों में से एक हैं। हम ओलंपिक, राष्ट्रमंडल खेलों में और एशियाई खेलों जैसे खेलों में सक्रिय रूप से भाग लेने से आगे बढ़ रहे हैं।

हमारी सरकार चुनने और दुनिया में सबसे बड़ा लोकतंत्र का आनंद लेने के हमारे पास पूर्ण अधिकार हैं।

हाँ, हम स्वतंत्र है और पूरी तरह से आजाद हैं हालाँकि हमें अपने देश की जिम्मेदारियों को नहीं भूलना चाहिए। देश के जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हमें हमेशा अपने देश में किसी भी आपातकालीन स्थिति को संभालने के लिए तैयार रहना चाहिए।

ये भी पढ़े 

 

Tags:

Happy indian 73rd 15 august 2019 independence day speech in hindi language for school students and teachers, 15 August 2019 speech in hindi, Independence day speech in hindi, 15 August Hindi speech on independence day 2019, Hindi speech on 15 august 2019, 15 August par bhashan hindi mein, Swatantrata diwas par bhashan hindi mein, Best speech on independence day 15 august in hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here